करौली। टोडाभीम के दादनपुर गांव में एक मूक बधिर नाबालिक बच्ची के साथ 9 मई को कुछ असामाजिक तत्वों ने दुष्कर्म के बाद जिंदा जला दिया। बच्ची को उसके माता-पिता ने पहले टोडाभीम अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया, वहां से उसे जयपुर रैफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान पीड़िता की मृत्यु हो गई। घटना को लेकर परिजनों ने टोइाभीम थाने में गैंगरेप और हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है । परिजनों का आरोप है की पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने की बजाय उन्हें ही धमकाने का काम कर रही है । घटना की जानकारी मिलने के अखिल भारतीय फेडरेशन एवं राष्ट्रीय मीणा विकास परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामस्वरूप मीणा ने राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा और डीजीपी से इस मामले में त्वरित गति से कार्रवाई करने आरोपियों को गिरफ्तार करने और परिजनों को उचित मुआवजा देने की मांग की है रामस्वरूप मीणा ने कहा कि घटना से मीणा समाज आहत है और नाराज की भी लगातार बढ़ रही है सरकार को चाहिए कि वह मूंग बधिर बालिका के हत्यारों को गिरफ्तार करें और उन्हें कड़ी से-कड़ी सजा दे।



Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.