29 साल में 12 लाख से ज्यादा मरीजों को कराया रक्त उपलब्ध

  • स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक ने मनाया 30 वां स्थापना दिवस
    जयपुर। स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक, मिलाप नगर जयपुर ने रविवार, 26 मई को अपना 30 वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर ब्लड बैंक परिसर में वृहद रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया है। शिविर में ब्लड बैंक में नियमित रक्तदान करने वाले रक्तदान योद्धाओं, मित्रगणों और उनके परिजनों के अलावा ब्लड बैंक, राजस्थान हॉस्पिटल तथा स्वास्थ्य कल्याण संस्थाओं के स्टाफ ने भी रक्तदान किया।
    इस अवसर पर ब्लड बैंक के मैनेजिंग ट्रस्टी डॉ. एस एस अग्रवाल ने कहा कि राज्य में पहली निजी ब्लड बैंक की स्थापना के साथ अब तक 29 वर्ष में हमने मानकों का कठोरता से पालन किया है एवं अनेक नवाचार भी किए हैं। इसी कारण स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक को क्वालिटी कौंसिल ऑफ इण्डिया, भारत सरकार की ओर से ‘एनएबीएच’ सर्टिफिकेशन प्रदान किया गया है। उन्होंने बताया कि ब्लड बैंक ने 29 साल में अब तक 8 हजार रक्तदान शिविरों के माध्यम से 6 लाख यूनिट रक्त एकत्र कर प्लाज्मा, प्लेटलेट्स, आरबीसी और डब्ल्यूबीसी जैसे विभिन्न घटकों से 12 लाख मरीजों को रक्त उपलब्ध कराया है।
  • स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक ने मनाया 30 वां स्थापना दिवस
    जयपुर। स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक, मिलाप नगर जयपुर ने रविवार, 26 मई को अपना 30 वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर ब्लड बैंक परिसर में वृहद रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया है। शिविर में ब्लड बैंक में नियमित रक्तदान करने वाले रक्तदान योद्धाओं, मित्रगणों और उनके परिजनों के अलावा ब्लड बैंक, राजस्थान हॉस्पिटल तथा स्वास्थ्य कल्याण संस्थाओं के स्टाफ ने भी रक्तदान किया।
    इस अवसर पर ब्लड बैंक के मैनेजिंग ट्रस्टी डॉ. एस एस अग्रवाल ने कहा कि राज्य में पहली निजी ब्लड बैंक की स्थापना के साथ अब तक 29 वर्ष में हमने मानकों का कठोरता से पालन किया है एवं अनेक नवाचार भी किए हैं। इसी कारण स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक को क्वालिटी कौंसिल ऑफ इण्डिया, भारत सरकार की ओर से ‘एनएबीएच’ सर्टिफिकेशन प्रदान किया गया है। उन्होंने बताया कि ब्लड बैंक ने 29 साल में अब तक 8 हजार रक्तदान शिविरों के माध्यम से 6 लाख यूनिट रक्त एकत्र कर प्लाज्मा, प्लेटलेट्स, आरबीसी और डब्ल्यूबीसी जैसे विभिन्न घटकों से 12 लाख मरीजों को रक्त उपलब्ध कराया है।

बिना एबज में लिए रक्त उपलब्ध कराना हमारा उद्देश्य

डॉ. अग्रवाल ने बताया कि पहले स्टेंड अलॉन और नॉन गवर्नमेंट लाइसेंस प्राप्त ब्लड बैंक का उद्देश्य जरूरतमंदों को बिना एबज में लिए रक्त उपलब्ध कराना है। डॉ. अग्रवाल ने इस अवसर पर ब्लड बैंक से जुड़े सभी कार्यकर्ताओं, इष्ट मित्रों और उनके परिवार जनों को बधाई दी।

रक्त की एक यूनिट से बनते हैं तीनों कम्पोनेंट के 20 प्रोडक्ट

ब्लड बैंक के मैनेजिंग ट्रस्टी डॉ. एस एस अग्रवाल ने कहा कि आमजन एवं चिकित्सक साथियों को यह जानकारी देना चाहता हूँ कि अब हम रक्त की एक यूनिट से इसके तीनों कम्पोनेंट के करीब 20 तरह के प्रोडक्ट बनाते हैं, जिनको मरीज की आवश्यकतानुसार उसे दिया जाता है, जिससे रोगी को तुरंत लाभ मिले और उसे साइड रिएक्शन भी ना हों। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य कल्याण ब्लड बैंक ही एकमात्र ब्लड बैंक है जिसमें सभी तरह के ब्लड कॉम्पोनेन्ट/प्रोडक्ट आधुनिकतम मशीनों से बनाएं जाते हैं।
इन प्रोडक्ट में पैक्ड आरबीसी, ल्यूको रीडूस्ड पैक्ड आरबीसी, ल्यूकोडिफ्लेटेड पैक्ड आरबीसी बाइ फिल्ट्रेशन, पैक्ड रेड सेल्स एलिकॉट्स, सेलाइन वाश्ड रेड सेल्स, होल ब्लड, क्रायो प्रेसिपिटेट, रैंडम डोनर प्लेटलेट (आरडीपी), ल्यूको रीडूसड रैंडम डोनर प्लेटलेट, सिंगल डोनर प्लेटलेट बाई अफेरेसिस (एसडीपी), फ्रेश फ्रोजेन प्लाज्मा (एफएफपी), ल्यूको रीडूस्ड फ्रेश फ्रोजेन प्लाज्मा (एफएफपी), प्लाज्मा बाई अफेरेसिस, प्लेटलेट रिच प्लाज्मा (पीआरपी), ल्यूकोडिफ्लेटेड रेड सेल्स, पूल्ड प्लेटलेट्स आदि शामिल हैं I

रक्त से सम्बंधित बीमारियों का इलाज हुआ आसान

नवीन तकनीकी के आने से रक्त से सम्बंधित बीमारियों का इलाज अब आसान हो गया है। पहले की अपेक्षा रक्त सम्बंधित बीमारियों, जैसे कैंसर, ल्यूकेमिया, थेलेसेमिया, हिमोफिलिया आदि में रोगियों को राहत मिलने लग गई है और उनकी उम्र भी पहले की अपेक्षा काफी बढ़ गई हैI

साल में एक बार करें रक्तदान, एक व्यक्ति को करें प्रेरित

डॉ एस एस अग्रवाल ने बताया कि एक रक्तदाता अपने द्वारा एक बार किए रक्त दान से तीन लोगों को जीवन दान दे सकता है।

रक्तदाता, रक्त दान के लिए करें शिविरों, ब्लड बैंकों का चयन

उन्होंने रक्त दाताओं का आह्वान किया कि रक्तदाता उन्हीं शिविरों में रक्तदान करें जहां किसी प्रकार का प्रलोभन नहीं दिया जाता हो। क्योंकि बिना किसी प्रलोभन के दिया रक्त ही हैल्दी एवं स्वैच्छिक रक्त कहलाता है।

सरकार लगाए प्रलोभन देने पर रोक, संस्थाएं बनाएं वार्षिक कैलेंडर

डॉ. अग्रवाल ने सरकार को भी इस बात पर फोकस करने के लिए कहा कि रक्तदाताओं को शिविर में आने के लिए किसी भी प्रकार की गिफ्ट या प्रलोभन पर प्रभावी रोक लगे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.