गंगापुर सिटी। (बनी सिंह मीना रिपोर्टर) सरपंचों की मांग पूरी नहीं होने और समस्याओं के निराकरण नहीं होने से राजस्थान सरपंच संघ के प्रदेश आह्वान पर गंगापुर सिटी और बामनवास पंचायत समिति की ग्राम पंचायतों में बुधवार को सरपंचों ने अपनी मांगों के संबंध में कलेक्ट्रेट पर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया । इसके बाद मांगों के संबंध में मुख्यमंत्री एवं ग्रामीण विकास और पंचायत राज विकास मंत्री के नाम एसडीएम अनूप सिंह को ज्ञापन सौंपा।
सरपंच संघ राजस्थान के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष नेमीचंद मीणा ने बताया कि सरपंचों के द्वारा राजस्थान सरपंच संघ के प्रदेश आह्वान पर प्रदेशभर की 11 हजार ग्राम पंचायतों में मांगों को लेकर आंदोलनरत हैं। सरपंचों ने पिछले 2 वर्षो का रुका हुआ राज्य वित्त आयोग एवं केन्द्र सरकार की राशी जारी करने, ताकि वे गांव का विकास समय पर करा सकें, प्रधानमंत्री आवास सूची की स्वीकृति निकालने और नए नाम जोड़ने के लिए पुन: आवेदन लेने के लिए पोर्टल खोले जाने, खाद्य सुरक्षा पोर्टल खोलने ताकि गरीब परिवारों के नाम जोड़ा जा सकें और जल जीवन मिशन का काम जल्द से जल्द पूरा किए जाने आदि मांगों को पूरा करने की मांग की।
इसके बाद भी यदि उनकी मांगों पर कोई सुनवाई नहीं होती है तो राजस्थान सरपंच संघ प्रदेश आह्वान पर प्रदेशभर के सरपंच 12 जुलाई को जिला स्तर पर कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप कर समस्याओं से अवगत कराया जाएगा और इसके बाद यदि सरकार उनकी सुनवाई नहीं करती है तो 18 जुलाई को प्रदेश भर की ग्राम पंचायतों के सरपंच राजस्थान विधानसभा के लिए कुच करेंगे। मजबूरन सरपंच संघ को आंदोलन की राह चुननी पड़ेगी।
महुकलां ग्राम पंचायत में सरपंच लखनलाल सैनी, नर्वदा, कमलेश बाई, मगनबाई, सरोज, लाला गुर्जर, छाबा ग्राम पंचायत पर महेशसिंह जादौन, मैड़ी में हरिलाल मीणा, बगलाई में अमरसिंह मीणा, बाढ़कलां में प्रतिनिधि महेश बैरवा, मोहचा में सरोज देवी, नौगांव में बीना बाई, सलेमपुर में प्रतिनिधि महेश बैरवा, बडौली मोजंती मीणा आदि ने मांगों को पूरा करने की मांग को लेकर नारेबाजी की।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.